Home राजनीति क्या पलट जाएगी इमरान की तख्ती… ?

क्या पलट जाएगी इमरान की तख्ती… ?

by National News Desk
Print Friendly, PDF & Email

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और पूर्व में आक्रामक बल्लेबाज और स्विंग गेंदबाज़ अपनी भी बॉल में फसते जा रहे है। इमरान खान की सरकार पर सियासी सकंट छाता नजर आ रहा है, एक तरफ जहां विपक्षी दलों ने इमरान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव दखिलकर दिया है तो वही दूसरी ओर उनके खुद की पार्टी के कई नेता बाग़ी हो गए है। अपने बयान में इमरान खान ने कहा है की वो अविश्वास प्रस्ताव से पहले इस्तीफा नहीं देंगे और वोटिंग से ठीक पहले कई पत्ते भी खोलेंगे।  आपको बताते चले की 25 से 28 मार्च के बीच नेशनल असेंबली में असविश्वास प्रस्ताव की वोटिंग हो सकती हैं।  जहा एक ओर इमरान  खान सत्ता छोड़ने को तैयार नहीं हैं वही दूसरी ओर विपक्ष दवा कर रही है की इमरान खान की सरकार अल्पमत में है और उनके पास कुर्सी छोड़ने के इलावा कोई विक्लप नहीं बचा है।

बढ़ती महंगाई के चलते इमरान की सरकार को आलोचनाओं का सामना करना पद रहा है, पाकिस्तान की आर्थिक स्तिथि  पर तनाव बना हुआ है, साथ ही विपक्षी दलों का ये भी मानना है की उनके देश पाकिस्तान की बुरी हालत के जिम्मेदार इमरान खान ही है।  बढ़ती महंगाई के साथ बढ़ते कर्ज़ और बेरोज़गारी के मुद्दे पर भी इमरान खान की सरकार को घेरा जा रहा है।
पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के स्पीकर असद कैसर ने 25 मार्च यानी शुक्रवार को सदन के निचले सत्र को बुलाया है। असेंबली में किसी भी प्रस्ताव को दाखिल करने के बाद स्पीकर को 14 दिन दिन के अंदर ही सत्र को बुलाना होता है, खास बात ये है की ये 14 दिन 21 मार्च को खत्म हो चुके है।  असद कैसर के इस देरी की वजह से उननपर इमरान के सतह देने का आरोप भी लग रहा है।
पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में कुल 342 सदस्य है।  इसके मुताबिक 172 सदस्यों के समर्थन की जरुरत प्रस्तवा को पास करने के लिए।  पाकिस्तानी नेता फज़लुर रहमान का कहना है की उनके पास 180 का आंकड़ा शामिल है, आगा उनका यह दवा सही है तो प्रस्ताव को पास होने में दिक्कत नहीं होगी। और ना ही दिक्कत होगी इमरान खान को इस्तीफा देने में, अब असलमे क्या होना थाई वो तो 25 को पता चलेगा

You may also like

Leave a Comment