Home राजनीति कांग्रेस में हुई खड़गे युग की शुरुआत

कांग्रेस में हुई खड़गे युग की शुरुआत

Print Friendly, PDF & Email
अध्यक्ष के तौर पर पहले भाषण में खड़गे ने RSS-BJP पर निशाना साधा. साथ ही सबके साथ मिल कर लड़ने की बात कही. सोनिया गाँधी ने कहा कि राहत महसूस कर रहीं हूं. सर से बहुत बड़ा बोझ उतर गया.

लखनऊ│ कांग्रेस पार्टी की कमान अब मल्लिकार्जुन खडगे के हाथ में सौंप दी गई है. हाल में हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनाव में जीत हासिल करने वाले खड़गे को चुनाव अधिकारी रहे मधुसुदन मिस्त्री ने जीत का प्रमाण पत्र सौंपा. AICC मुख्यालय दिल्ली में आयोजित एक समारोह में खडगे को कांग्रेस की कमान सौंपी गई. इस मौके पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी, राहुल गांधी सहित कांग्रेस के तमाम बड़े नेता मौजूद रहे.

बड़ा बोझ उतर गया : सोनिया

खड़गे को पार्टी का जिम्मा सौपे जाने के बाद पार्टी नेताओं को संबोधित करते हुए सोनिया गाँधी ने कहा कि अब वो काफी राहत महसूस कर रही हैं. उनके सिर से एक बड़ा बोझ  उतर गया है. सोनिया 2019 से ही कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष थीं. 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार के बाद तत्कालीन अध्यक्ष रहे राहुल गाँधी ने हार की जिम्मेदारी लेते हुए अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था.

अपने संबोधन में सोनिया ने खड़गे को बधाई देते हुए कहा कि वो एक अनुभवी और जमीन से जुड़े नेता हैं. साथ ही पार्टी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देते हुए कहा, आपने मुझे जो सम्मान दिया है उसका मैं जीवन भर आभारी रहूंगी. जितना मुझसे हो सकता था मैंने किया. आज मेरे सिर से ये भार उतर गया.

परिवर्तन संसार का नियम है जो हर क्षेत्र में होता है. आज कांग्रेस पार्टी के सामने कई चुनौतियाँ हैं. सबसे बड़ी चुनौती है देश के सामने पैदा हुए लोकतांत्रिक मूल्यों के संकट से निपटना.

भावुक हुए खड़गे, कहा मजदूर का बेटा कांग्रेस अध्यक्ष बन गया

कांग्रेस के 65वें अध्यक्ष के तौर पर कार्यभार सँभालने के बाद खड़गे ने कहा कि बहुत भावुक हैं. एक मजदूर का बेटा आज कांग्रेस पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गया. ऐसा केवल कांग्रेस पार्टी में ही हो सकता है. इस मौके पर खड़गे ने सोनिया गांधी और राहुल गाँधी की तारीफ की. खड़गे ने कहा कि आज जब सत्ता के लिए राजनीति का दौर है ऐसे में सोनिया गाँधी का किया हुआ त्याग एक मिसाल है जिसका कोई दूसरा उदहारण नहीं मिलता.

पढ़े : ख़त्म हो वर्ण और जाति व्यवस्था : भागवत
देखें : राहुल गांधी पर अब कोई कीचड़ नहीं चिपकने वाला 

खड़गे ने कहा कि ये मुश्किल दौर है. लोकतंत्र को बदलने की कोशिश हो रही है. किसने सोचा था कि देश में झूठ का बोलबाला होगा. इस मौके पर उन्होंने भाजपा के न्यू इंडिया और विपक्ष मुक्त भारत पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि आखिर ये कैसा न्यू इंडिया है जहाँ युवाओं को रोजगार नहीं है? किसानों को जीप के नीचे कुचला जा रहा है. बैंक और तमाम सरकारी संस्थाएं सरकार बेच रही है.

खड़गे ने कांग्रेस पार्टी के उदयपुर में हुई बैठक के कई निर्णयों को लागु करने का खाका खीचते हुए युवाओं का आवाहन किया. उन्होंने कहा कि हम जो लड़ाई लड़ रहे हैं वो केवल हमारी नहीं है. ये सबके भविष्य की लड़ाई है जिसे हम लड़ेगे और जीतेंगे.

You may also like

Leave a Comment